155260 पर कॉल करें और फ्रॉड की रकम होगी वापस अगर आप ऑनलाइन फ्रॉड के शिकार हो गये हैं

155260 पर कॉल करें और फ्रॉड की रकम होगी वापस
अगर आप ऑनलाइन फ्रॉड के शिकार हो गये हैं, तो परेशान होने की जरूरत नहीं. लगभग 10 मिनट के अंदर आपके खाता में वह रका वापस हो जायेगी. इसके लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय न एक विशेष साइबर सेल तैयार गठित किया है. यह सेल देश के किसी भी हिस्से में। फ्रॉड हुए ऑनलाइन को रोकने के मकसद से तैयार किया गया है. इसके लिए साइबर सेल

के विशेष टोल फ्री नंबर पर कॉल कर जालसाजी के बारे में जानकारी देनी होगी. इस नंबर को सरकार ने लोगों को ऑनलाइन फ्रॉड से बचाने के लिए जारी किया है दावे के मुताबिक इस नंबर के डायल करते हो लगभग दस के अंदर आपका सारा पैसा वापस पक खाते में ट्रांसफर हो जायेगा. कोरोना काल में ऑनलाइन फ्रॉड बढ़ते ही जा रहा है. फ्रॉडों ने इसका जमकर फायदा उठाया और आम लोगों को अपने जाल में फंसाया, इसी के मद्देनजर यह साइबर सेल गठित किया गया है. केंद्रीय गृह मंत्रालय और दिल्ली पुलिस की साइबर सेल द्वारा जारी हेल्पलाइन नंबर 155260 है. यह हेल्पलाइन नंबर टोल फ्री है, जानकारी केअनुसार आपके पैसे जिस बैंक अकाउंट या फिर आइडी पर ट्रांसफर किया गया है. के सरकार की 155260 हेल्पलाइन से उस बैंक या फिर इ-साइट को अलर्ट मैसेज य पहुंचेगा. फिर आपकी रकम होल्ड हो जायेगी. अगर आप जालसाजी के शिकार हुए हैं, तो आपको सबसे पहले हेल्पलाइन नंबर 155260 पर डॉयल करना होगा. कॉल करने के बाद हेल्पलाइन से राज्य पूछा जायेगा. उसके बाद नंबर बताया जायेगा. फिर वह नंबर दबाना होगा. इसके बाद जानकारी मांगी जायेगी. नंबर हर राज्य के लिए अलग-अगल नंबर तय किये गये है. जैसे बिहार के लिए एक और झारखंड के लिए दो दबाना होगा. इसके बाद जानकारी के तौर पर शिकायतकर्ता का नाम, मोबाइल नंबर, फ्रॉड की टाइमिंग, बैंक अकाउंट नंबर की जानकारी प्राप्त की जायेगी. इसके बाद हेल्पलाइन नंबर शिकायतकर्ता की जानकारी को आगे की कार्रवाई के लिए पोर्टल पर भे�

अगर आप ऑनलाइन फ्रॉड के शिकार हो गये हैं, तो परेशान होने की जरूरत नहीं. लगभग 10 मिनट के अंदर आपके खाता में वह रका वापस हो जायेगी. इसके लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय न एक विशेष साइबर सेल तैयार गठित किया है. यह सेल देश के किसी भी हिस्से में। फ्रॉड हुए ऑनलाइन को रोकने के मकसद से तैयार किया गया है. इसके लिए साइबर सेल

के विशेष टोल फ्री नंबर पर कॉल कर जालसाजी के बारे में जानकारी देनी होगी. इस नंबर को सरकार ने लोगों को ऑनलाइन फ्रॉड से बचाने के लिए जारी किया है दावे के मुताबिक इस नंबर के डायल करते हो लगभग दस के अंदर आपका सारा पैसा वापस पक खाते में ट्रांसफर हो जायेगा. कोरोना काल में ऑनलाइन फ्रॉड बढ़ते ही जा रहा है. फ्रॉडों ने इसका जमकर फायदा उठाया और आम लोगों को अपने जाल में फंसाया, इसी के मद्देनजर यह साइबर सेल गठित किया गया है. केंद्रीय गृह मंत्रालय और दिल्ली पुलिस की साइबर सेल द्वारा जारी हेल्पलाइन नंबर 155260 है. यह हेल्पलाइन नंबर टोल फ्री है, जानकारी केअनुसार आपके पैसे जिस बैंक अकाउंट या फिर आइडी पर ट्रांसफर किया गया है. के सरकार की 155260 हेल्पलाइन से उस बैंक या फिर इ-साइट को अलर्ट मैसेज य पहुंचेगा. फिर आपकी रकम होल्ड हो जायेगी. अगर आप जालसाजी के शिकार हुए हैं, तो आपको सबसे पहले हेल्पलाइन नंबर 155260 पर डॉयल करना होगा. कॉल करने के बाद हेल्पलाइन से राज्य पूछा जायेगा. उसके बाद नंबर बताया जायेगा. फिर वह नंबर दबाना होगा. इसके बाद जानकारी मांगी जायेगी. नंबर हर राज्य के लिए अलग-अगल नंबर तय किये गये है. जैसे बिहार के लिए एक और झारखंड के लिए दो दबाना होगा. इसके बाद जानकारी के तौर पर शिकायतकर्ता का नाम, मोबाइल नंबर, फ्रॉड की टाइमिंग, बैंक अकाउंट नंबर की जानकारी प्राप्त की जायेगी. इसके बाद हेल्पलाइन नंबर शिकायतकर्ता की जानकारी को आगे की कार्रवाई के लिए पोर्टल पर भेज देगा. फिर संबंधित बैंक को फ्रॉड की जानकारी दी जायेगी. जानकारी सही मिलने पर फ्रॉड वाले फंड को होल्ड कर दिया जायेगा. इसके बाद आपकी रकम आपके खाता में ट्रांसफर हो जायेगी.

धन्यवाद
लाइव भारत न्यूज 24

Leave a Reply

Your email address will not be published.